मोबाइल छीनने वाले लुटेरे से भिड़ी बहादुर लड़की, आरोपी ने हाथ पर वार कर काटी नसें लेकिन फिर भी लड़की ने धर दबोचा,जानिए पूरी खबर…



 

मोबाइल छीनने वाले लुटेरे से भिड़ी बहादुर लड़की, आरोपी ने हाथ पर वार कर काटी नसें लेकिन फिर भी लड़की ने धर दबोचा,जानिए पूरी खबर…

देखें बहादुरी का पूरा वीडियो

*जालंधर में सामने आया बहादुरी का एक वीडियो ,जिसमे बहादुर लड़की पर लुटेरे द्वारा तेजधार हथियार से कई वार करने और हाथ पर…

Posted by MBD Web News on Monday, August 31, 2020

 

पंजाब के जालंधर में वायरल हुई एक वीडियो जिसमें एक 15 साल की बहादुर बेटी ने लुटेरों का डटकर मुकाबला किया। इस बहादुर बेटी ने लुटेरे को जकड़ लिया। अब यह घटनाक्रम का वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल रो रहा है। अब चारों तरफ लोग इस बहादुर बेटी की तारीफ के चर्चे हो रहे हैं।

चलिए जानते हैं पूरा मामला…

जालंधर के फतेहपुरी क्षेत्र की रहने वाली 15 साल की कुसुम आजकल पूरे क्षेत्र के लिए मिसाल बनी हुई है। कुसुम ने बहादुरी दिखाते हुए मोबाइल छीनने के आरोपी को धर दबोचा। आरोपी ने उसकी कलाई पर दातर से वार भी किया लेकिन कुसुम ने उसे नहीं छोड़ा। उसकी बहादुरी का सीसीटीवी फुटेज वायरल हो गया है। पुलिस ने केस दर्जकर लिया है। पकड़े गए युवक की पहचान अविनाश निवासी बेगमपुरा बस्ती दानिशमंदा के रूप में हुई है। उसका साथी बाइक सवार फरार है, जो रामामंडी इलाके का रहने वाला है, उसकी तलाश की जा रही है।

फतेहपुरी मोहल्ले की रहने वाली कुसुम दीनदयाल उपाध्याय नगर में सोमवार की सुबह ट्यूशन पढ़ने आई थी। कुसुम ने बताया कि वह आठवीं में पढ़ती है। ट्यूशन पढ़कर पैदल ही घर की तरफ जा रही थी। तभी बाइक सवार लुटेरों ने उसका पीछा करना शुरू कर दिया। पहले तो उसको कुछ समझ नहीं आया कि दो युवक उसके पीछे क्यों आ रहे हैं। इस बीच उसने अपने पिता को फोन करने को मोबाइल निकाला। अभी नंबर ढूंढ ही रही थी कि बाइक सवार युवक उसके पास आकर रुके और पीछे बैठे युवक ने उसका मोबाइल छीन लिया। लुटेरे मोबाइल लेकर फरार होने लगा लेकिन कुसुम ने पीछे बैठे युवक की कमीज को पकड़कर खींच लिया। इससे लुटेरा घबरा गया और उसने उसकी गर्दन पर दातर से हमला किया।

दातर गर्दन को न लगकर उसके हाथ पर लगी। इसी दौरान आसपास के लोग आ गए और एक लुटेरा पकड़ा गया। कुसुम ने बताया कि बाइक पर बैठा दूसरा लुटेरा लगातार कह रहा था कि इसके सिर पर दातर मार दो। इसके बाद बाइक सवार फरार हो गया। उसने दूसरे लुटेरे की कमीज नहीं छोड़ी। दातर से वार के कारण कुसुम की कलाई की नसें कट गई थी। उसे हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. मुकेश जोशी के अस्पताल में दाखिल करवाया गया। उन्होंने मुफ्त में इस बहादुर लड़की का ऑपरेशन किया।

Leave a Reply