स्पेन तीसरी बार इमरजेंसी लगाएगा, पहला यूरोपीय देश, जहां 10 लाख से ज्यादा संक्रमित; दुनिया में 4.30 करोड़ केस


स्पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने देश में तीसरी बार इमरजेंसी लगाने का फैसला लिया है। इसके बाद यहां कर्फ्यू और दूसरे प्रतिबंध लगाया जा सकेंगे। देश में अब तक दो बार इमरजेंसी लग चुकी है। पिछले हफ्ते स्पेन पहला यूरोपीय देश था, जहां संक्रमण के मामले 10 लाख से ज्यादा हो गए।

उधर, मलेशिया के किंग अल-सुल्तान अब्दुल्ला ने इमरजेंसी लगाए जाने का प्रस्ताव खारिज कर दिया है। प्रधानमंत्री मुहीदीन यासिन ने इमरजेंसी लगाए जाने की बात कही थी, पर किंग अल-सुल्तान ने कहा कि इसकी जरूरत नहीं है। मलेशिया में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। रविवार को 865 मामले मिले और 8 मौतें हुईं। मलेशिया में अब तक 26,565 केस मिले चुके हैं, जबकि 229 की मौत हो चुकी है।

इस बीच, दुनिया में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 4.30 करोड़ से ज्यादा हो गया है। 3 करोड़ 17 लाख 24 हजार 4 मरीज रिकवर हो चुके हैं। अब तक 11.56 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा

देश संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 88,29,951 2,30,085 57,41,991
भारत 78,66,740 1,18,593 70,78,123
ब्राजील 53,81,224 1,56,926 48,17,898
रूस 15,13,877 26,050 11,38,522
स्पेन 11,10,372 34,752 उपलब्ध नहीं
फ्रांस 10,86,497 34,645 1,09,486
अर्जेंटीना 10,81,336 28,613 8,81,113
कोलंबिया 10,07,711 30,000 9,07,379
मैक्सिको 8,86,800 88,743 6,46,739
पेरू 8,86,214 34,095 8,03,846

फ्रांस में सरकारी प्रयास कारगर नहीं
फ्रांस में शनिवार को 45 हजार 422 नए मामले सामने आए। शुक्रवार को यह आंकड़ा 42 हजार से कुछ ज्यादा था। कुल मिलाकर देश में अब तक करीब 11 लाख संक्रमित मिल चुके हैं। अस्पतालों में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इतना ही नहीं सरकार ने पहली बार माना है कि 9 शहरों मे लॉकडाउन के वैसे नतीजे नहीं मिले, जैसी उम्मीद थी।

लिहाजा, नई रणनीति पर विचार किया जा रहा है। संभव है कि बेल्जियम की तर्ज पर यहां पूरे देश में सख्त लॉकडाउन लागू किया जाए। हालांकि, सरकार को डर इस बात का है कि पहले की तरह लोग इसके विरोध में सड़कों पर न उतर आएं।

ब्रिटेन में वैक्सीन की तैयारी
ब्रिटेन सरकार ने फैसला किया है कि देश के हेल्थ नेटवर्क जिसे एनएचएस कहा जाता है, के सभी वर्कर्स को क्रिसमस के पहले ही वैक्सीन उपलब्ध करा दिया जाएगा। हालांकि, इस बारे में फिलहाल आधिकारिक तौर पर कोई बयान जारी नहीं किया गया है।

एनएचएस के ट्रस्ट चीफ ने कहा- पूरी उम्मीद है कि क्रिसमस के पहले हमारे पास एक बेहतरीन वैक्सीन होगा। लेकिन, इसका पहला हक एनएचएस के फ्रंट लाइन वर्कर्स को है। अमेरिका में भी तीसरे चरण के वैक्सीन ट्रायल शनिवार से शुरू हो गए।

लंदन के हीथ्रो एयरपोर्ट पर शनिवार को बाहर आते यात्री। ब्रिटेन सरकार ने यात्रा पर प्रतिबंध लगभग खत्म कर दिए हैं। यहां शनिवार को 19 हजार नए मामले सामने आए।

बेल्जियम में कल से लॉकडाउन संभव
कोरोनावायरस शुरू होने के बाद बेल्जियम सरकार दूसरी बार नेशनल लॉकडाउन लगाने जा रही है। माना जा रहा है कि सरकार आज इस पर फैसला लेगी और इसे सोमवार से पूरे देश में सख्ती से लागू किया जाएगा। सरकार ने फिलहाल अस्पतालों को अलर्ट पर रखा है। इसके साथ ही नॉन अर्जेंट सर्जरी टालने का फैसला भी किया है। इसका मकसद अस्पतालों में भीड़ कम करना और बेड खाली रखना है।

नए प्रधानमंत्री एलेक्जेंडर डी क्रू ने कहा- इसके अलावा कोई रास्ता भी नहीं है। हमें अपने सिस्टम को बेहद जल्द दुरुस्त करना होगा। सभी तरह के इवेंट्स रद्द कर दिए गए हैं। पार्कों को बंद कर दिया गया है। कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम के आदेश जारी किए जा चुके हैं। सभी तरह के होटल, बार और रेस्टोरेंट्स भी बंद हैं।

ब्रसेल्स में टूरिस्ट प्लेसेस पर लोगों की आवाजाही सीमित हो चुकी है। ज्यादातर रेस्टोरेंट्स यहां वीरान नजर आते हैं। हालांकि, सरकार ने साफ कर दिया है कि प्रतिबंधों में किसी तरह की ढील फिलहाल नहीं दी जाएगी, क्योंकि नए मामले बढ़ रहे हैं।

फ्रांस में इमरजेंसी प्लान तैयार
फ्रांस की हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा है कि देश में संक्रमण की दूसरी लहर पहली के मुकाबले ज्यादा खतरनाक साबित हो सकती है। इससे निपटने के लिए इमरजेंसी प्लान तैयार किया गया है। इसके अलावा अस्पतालों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। देश के 9 शहरों में पहले ही नाइट कर्फ्यू था।

अब इसे कुछ और क्षेत्रों में लगाने की तैयारी भी की जा चुकी है। शुक्रवार को यहां 43 हजार नए मामले मिले थे। शनिवार को यह आंकड़ा कुछ कम होकर 41 हजार पर आ गया। हॉस्पिटल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है।

 


मलेशिया की राजधानी कुआलालम्पुर में रविवार को एक स्टाफ दुकान को डिसइन्फेक्ट करते हुए। यहां संक्रमण के अब तक 26 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं।
 

Leave a Reply

error: Content is protected !!