कोरोना के बढ़ते कदमो के कारण मुंबई-दिल्ली के बीच ट्रेन और फ्लाइट्स बंद करने की तैयारी, प्रस्ताव को उद्धव सरकार की मंजूरी…

कोरोना के बढ़ते कदमो के कारण मुंबई-दिल्ली के बीच ट्रेन और फ्लाइट्स बंद करने की तैयारी, प्रस्ताव को उद्धव सरकार की मंजूरी…

दिल्ली में पिछले कुछ दिनों में जिस तरह से कोरोना की वजह से लोगों की जान गई है, उसको लेकर महाराष्ट्र सरकार चिंतित है और वहां इसके प्रसार को रोकने की दिशा में यह एहतियाती कदम उठा रही है.

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए आज से यहां हाउस टू हाउस सर्वे हो रहा है. वहीं महाराष्ट्र सरकार, दिल्ली और मुंबई के बीच की विमान सेवा को बंद करने पर विचार कर रही है. माना जा रहा है कि सिर्फ विमान  सेवा ही नहीं, दोनों राज्यों के बीच जारी रेल सेवा भी रोकी जा सकती है. महाराष्ट्र सरकार इस विषय में जल्द ही बड़ा फैसला ले सकती है.

जाहिर है एक तरफ पूरे देश में लॉकडॉउन को खत्म कर फिर से उद्योग व्यवस्था बहाल करने पर काम किया जा रहा है लेकिन दिल्ली में पिछले कुछ दिनों में जिस तरह से कोरोना की वजह से लोगों की जान गई है, उसको लेकर महाराष्ट्र सरकार चिंतित है और वहां इसके असर को कम करने या कोरोना के प्रसार को रोकने की दिशा में यह एहतियाती कदम उठा रही है.

हालांकि सरकार की तरफ से यह भी कहा गया है कि अगर फैसला लिया गया तो लोगों को 48 घंटे का समय दिया जाएगा. शुक्रवार सुबह महाराष्ट्र सीएम ने अधिकारियों से बात की थी, इस दौरान प्रस्ताव रखा गया कि दिल्ली में कोरोना के मामले काफी बढ़े हैं. दिल्ली और मुंबई के बीच लोगों का आना-जाना भी बहुत होता है. इसलिए कोरोना को रोकने के लिए दोनों राज्यों के बीच आवागमन को रोक दिया जाए. जिसके बाद महाराष्ट्र सीएम ने प्रस्ताव को आगे बढ़ाने का निर्देश दिया है.

अधिकारियों ने कहा है कि फिलहाल इस प्रस्ताव पर काम किया जा रहा है. जब भी इसे लागू किया जाएगा लोगों को 48 घंटे का वक्त दिया जाएगा. माना जा रहा है कि जब तक दिल्ली में कोरोना पर नियंत्रण नहीं हो जाता है तब तक विमान सेवा और रेल सेवा बंद रह सकती है. अब तमाम एजेंसी आपस में बात कर इसपर फैसले पर आदेश जारी करेगी.

31 दिसंबर तक बंद रहेंगे सभी स्कूल
महाराष्ट्र सरकार ने बृहन्मुंबई महानगरपालिका (BMC) के अंतर्गत आने वाले सभी स्कूलों को 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला लिया है. महाराष्ट्र सरकार इससे पहले 23 नवंबर से नौवीं से बारहवीं तक के स्कूल खोलने वाली थी. लेकिन अब कोरोना के चलते इन्हें 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला किया है.

बीएमसी का कहना है कि बीएमसी के अधिकार क्षेत्र में आने वाले सभी स्कूल बंद रहेंगे और यह निर्णय एक ऐहतियाती उपाय है और वर्तमान Covid19 स्थिति को ध्यान में रखते हुए लिया गया

Leave a Reply

error: Content is protected !!