बिजली विभाग द्वारा डाली गई अंडरग्राउंड केबल लोगों के लिए बनी मुसीबत …



 

बिजली विभाग द्वारा डाली गई अंडरग्राउंड केबल लोगों के लिए बनी मुसीबत …

पिछले वर्ष नवंबर 2019 से टूटी सड़क पर चलने को मजबूर हैं 25 कॉलोनियों के निवासी

आखिर किसके दबाव में बार-बार बदल रहा है अंडरग्राउंड केबल को जॉइंट करने वाला स्थान

 

क्या विभाग ने पहले से नहीं किया था सही से एस्टीमेट तैयार, जो कि उन्हें बार बार इतनी तब्दीलियां करनी पड़ रही है

इस पूरे मामले की जानकारी हेतु 

Click here to Watch Video

Mbdwebnews जालंधर (सुमेश शर्मा)पिछले वर्ष नवंबर 2019 माह में शुरू हुए कार्य सलेमपुर मुसलमाना से गुरु अमरदास नगर तक बिजली विभाग की तरफ से अंडरग्राउंड केबल का कार्य किया गया जोकि लोगों के लिए आज तक मुसीबतें ही खड़ी करते आ रहा है । लोगों का कहना है कि पहले तो विभाग के लोगों ने कहा कि सड़क का निर्माण जैसे जैसे केबल बिछेगी इसके साथ ही तुरंत सड़क का निर्माण होता रहेगा जो कि आज 1 साल बाद भी शुरू नहीं हो सका।

आज भी वेरका मिल्क प्लांट से शुरू होकर सलेमपुर मुसलमाना तक जाने वाली सड़क पूरी तरह से टूटी पड़ी है जिसके लिए लोग 1 साल से कभी अपने क्षेत्र के स्थानीय नेताओं और कभी विधायक से मिन्नतें करते अक्सर दिखाई देते रहते हैं। लेकिन उनकी सुनने के बाद भी लोगों की यह परेशानी जस की तस बनी हुई है

आज एक नया मसला बिजली विभाग के द्वारा खड़ा कर दिया गया जिसमें यह बात सामने आई कि जिस टावर पर जाकर इस अंडर ग्राउंड केबल का जॉइंट होना था वह जमीन एक राजनीतिक व्यक्ति के पास है और उन्होंने अपनी जमीन में इसका जॉइंट करने की बात नही मानी , जिसके बाद बिजली विभाग ने दूसरी बार एस्टीमेट बनाया और इस केबल को एक नई जगह टावर स्थापित कर जोड़ने के लिए आज कार्य शुरू किया जिसका विरोध करते हुए इलाका निवासियों ने कार्य को रोकने की बात कही। मोहल्ला निवासियों का कहना है की बिजली विभाग के उच्च अधिकारी राजनीतिक दबाव में आकर पहले जॉइंट करने वाले टावर को छोड़कर अब एक नया टावर कॉलोनी के बीचो बीच खड़ा करना चाहते हैं जो कि उनके घरों के मात्र 10 -12 फीट दूरी पर ही स्थापित होगा. उनका कहना है कि इससे उनके द्वारा लगाए गए कई पेड़ पौधे जो कि उन्होंने वर्षों से मेहनत कर के पाले गए हैं सब इन अधिकारियों की गलती के कारण उखाड़ दिए जाएंगे जबकि अगर केबल को पुरानी जगह पर ही जॉइंट किया जाता तो एक भी पेड़ खराब नहीं होगा । इसके साथ ही लोगों ने यह भी आरोप लगाया कि राजनीतिक लोग किस तरह से अपनी महत्वाकांक्षाओं को पूरा करते हैं इसका यह जिंदा उदाहरण है वही विभाग के अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने सभी कार्य लीगल तरीके से पूरे किए हैं अतः लोगों की परेशानी को देखते हुए अभी इस कार्य को कुछ समय के लिए स्थगित किया है।

Leave a Reply