किसान गेहूँ की कटाई के दौरान पंजाब सरकार और स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी निर्देशों की पालना को विश्वसनीय बनायें

9 लाख मीट्रिक टन गेहूँ की पैदावार होने की संभावना- मुख्य कृषि अधिकारी

किसान गेहूँ की कटाई के दौरान पंजाब सरकार और स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी निर्देशों की पालना को विश्वसनीय बनायें

10 अप्रैल से पहले मंडियों में पूर्ण कर लिया जायेगा जरुरी प्रबंध- जि़ला मंडी अधिकारी

चालू हाड़ी सीजन दौरान जि़ला जालंधर की मंडियों में गेहूँ की रिकार्ड तोड़ आमद होने की संभावना है। इस बार में जि़ले में 1.73 लाख हेक्टेयर क्षेत्रफल में गेहूँ की बिजवाई की गई है, जिस से तकरीबन 9 लाख मीट्रिक टन गेहूँ की पैदावार होने की उम्मीद है।

मुख्य कृषि अधिकारी डा. सुरिन्दर सिंह ने बताया कि कोविड -19 की दूसरी लहर के कारण गेहूँ की कटाई के दौरान किसानों को विशेष प्रबंध करने पड़ सकते हैं। उन्होने किसानों को पंजाब सरकार और स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी निर्देशों की पालना को यकीनी बनाने पर ज़ोर दिया। उन्होने कहा कि गेहूँ की कटाई के काम में ज़्यादा मज़दूरों की ज़रूरत होने के कारण उनकी तरफ से सामाजिक दूरी, मास्क पहनना समेत अन्य सुरक्षा सावधानियों की पालना को विश्वसनीय बनाया जाये। उन्होने कहा कि यदि इन बातों का ध्यान रखा जायेगा तो गेहूँ की कटाई और मंडीकरण में आने वाली मुश्किलों से बचा जा सकता है।

वर्णनयोग्य है कि पंजाब सरकार द्वारा 10 अप्रैल से गेहूँ की सरकारी खरीद शुरू की जा रही है, जिस के मद्देनजऱ अनाज मंडियों की साफ़ -सफ़ाई के साथ-साथ उनको सैनेटाईज़ भी किया जा रहा है जिससे किसानों को किसी किस्म की परेशानी का सामने न करना पड़े।
इससे सम्बन्धित जि़ला मंडी अधिकारी मकेश कैले ने जानकारी देते बताया कि जि़लो की समूचे 78 मंडियों में गेहूँ की निर्विघ्न खरीद के लिए ज़रुरी प्रबंध जंगी स्तर पर जारी हैं, जोकि 10 अप्रैल से पहले पूर्ण कर लिए जाएंगे। उन्होने आगे बताया कि कोविड -19 महामारी के मद्देनजऱ मंडियों में दाखि़ल होने पर किसानों को मास्क के प्रयोग को विश्वसनीय बनाया जायेगा। उन्होने बताया कि गेहूँ की खरीद अलग ढंग से की जायेगी जिससे मंडियों में भीड़ इकठा न हो सके। किसानों को मंडी में अपनी फ़सल ढेरी करने के लिए 30*30 के बॉक्स भी बनाऐ गए हैं, जहाँ खरीद से सम्बन्धित पूरी कार्यवाही को विश्वसनीय बनाया जायेगा। इस के इलावा मंडियों में किसानों के लिए पीने वाले पानी के साथ-साथ शौचालयों , साफ़ -सफ़ाई और रौशनी के कडे प्रबंध किये जा रहे हैं।

उन्होने किसानों को मंडियों में अपनी फ़सल सुखा कर लेकर आने और सरकार द्वारा कोविड -19 से सम्बन्धित जारी निर्देशों की पूरी तरह पालना करने की अपील की जिससे उनको अपनी फ़सल बेचते समय किसी किस्म की मुश्किल का सामना न करना पड़े।

Leave a Reply