संसद पर घातक हमला, कार से टक्कर मारने के बाद पुलिस पर चाकू से वार, जानें पूरी खबर..

 संसद पर घातक हमला, कार से टक्कर मारने के बाद पुलिस पर चाकू से वार, जानें पूरी खबर..

हमलावर ने अपनी सोशल मीडिया पोस्ट में सरकार (US Capitol Attack) को सबसे बड़ा दुश्मन बताया है. हमले पर बाइेडन ने बयान जारी किया है.

अमेरिकी संसद पर घातक हमला, कार से टक्कर मारने के बाद पुलिस पर चाकू से वार, बाइडेन ने जताया दुख
अमेरिकी संसद पर हमला

Deadly Attack on US Capitol: यूएस कैपिटल बिल्डिंग (US Capitol) कॉम्प्लेक्स (अमेरिकी संसद भवन) में हुए हमले में एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई है, जबकि एक अन्य अधिकारी जख्मी हैं, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है. मामले में पुलिस ने बताया है कि एक गाड़ी ने सुरक्षा बैरिकेड को टक्कर मार दी थी (America US Capitol Attack). इसके बाद उसके ड्राइवर ने पुलिस अधिकारियों पर चाकू से हमला कर दिया. बाद में पुलिस को संदिग्ध पर गोली चलानी पड़ी, जिससे उसकी मौत हो गई.

सुरक्षा कारणों के मद्देनजर यहां एक बार फिर लॉकडाउन लगा दिया गया है. राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) और प्रथम महिला जिल बाइडेन ने मृतक पुलिसकर्मी विलियम इवांस के परिवार के प्रति ‘गहरी संवेदना’ व्यक्त की है. बाइडेन ने एक बयान में कहा है, ‘यूएस कैपिटल में सुरक्षा चेकपॉइंट पर हुए हिंसक हमले के बारे में जानकर मुझे और जिल को काफी दुख हुआ है (US Capitol Attack Why).’ अमेरिकी मीडिया का कहना है कि अधिकारियों ने हमलावर की पहचान नोहा ग्रीन के तौर पर की है, जिसकी उम्र 25 साल थी.

हमलावर की मंशा का पता नहीं

वह इंडियाना का रहने वाला अश्वेत शख्स था. वह इस्लाम आंदोलन से जुड़ा था. कार्यवाहक प्रमुख योगानांडा पिट्टमैन ने कहा कि अभी तक हमलावर की मंशा का पता नहीं चल सका है. वहीं वाशिंगटन मेट्रोपोलिटन पुलिस प्रमुख रॉबर्ट कौंटी ने बताया, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि ये आतंकवाद से जुड़ी घटना थी या नहीं लेकिन ये स्पष्ट है कि हम जांच करना जारी रखेंगे (US Capitol Attack Latest News). हमलावर ग्रीन के मार्च में किए गए ऑनलाइन पोस्ट को देखकर उसकी निराशा और मानसिक विकार का पता चलता है.

सरकार को दुश्मन मानता था ग्रीन

अपनी पोस्ट में ग्रीन ने लिखा है कि वह बेरोजगार है और उसे स्वस्थ्य से संबंधित परेशानी हैं. एक पोस्ट में उसने लिखा है कि वह ‘अकल्पनीय टेस्ट’ का सामना किया है (US Capitol Attack Car) और अब वह एक ‘आध्यात्मिक यात्रा की तलाश में’ है. अपनी एक पोस्ट में उसने बताया कि उसे एफबीआई और सीआईए (अमेरिकी खुफिया एजेंसी) ने परेशान किया है. उसने सरकार को अश्वेत लोगों का दुश्मन नंबर एक कहा है. उसने ये भी कहा है कि वह नेशन ऑफ इस्लाम के लुइस फर्राक खान का अनुयायी है, जो अश्वेत राष्ट्रवाद का प्रचार करता है, श्वेत विरोधी और यहूदी विरोधी सोच रखता है.

Leave a Reply