MBD WEB NEWS

कनाडा में आ सकती है कोरोना की चौथी लहर, मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया आखिर क्यों ऐसा होने का है बड़ा खतरा?

कनाडा में आ सकती है कोरोना की चौथी लहर, मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया आखिर क्यों ऐसा होने का है बड़ा खतरा?

 

 

कनाडा (Canada) की मुख्य सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारी डॉ थेरेसा टैम ने कहा है कि डेल्टा वेरिएंट की वजह से देश में कोरोना की चौथी लहर आ सकती है.

 

 

कनाडा में आ सकती है कोरोना की चौथी लहर, मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया आखिर क्यों ऐसा होने का है बड़ा खतरा?
मास्क लगाकर सड़क पार करते लोग (AFP)

कनाडा (Canada) के ऊपर कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus) की चौथी लहर (Fourth Wave) का खतरा मंडरा रहा है. देश की मुख्य सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारी ने शुक्रवार को कहा कि गर्मियों के अंत तक कोविड-19 की चौथी लहर आ सकती है. इसके पीछे की वजह खतरनाक डेल्टा वेरिएंट (Delta Variant) होने वाला है. स्वास्थ्य अधिकारी डॉ थेरेसा टैम (Dr Theresa Tam) ने कहा, इसके अलावा ऐसा होने की वजह प्रतिबंधों को जल्द हटाना और पर्याप्त लोगों को वैक्सीन नहीं लगवाना हो सकता है.

डॉ थेरेसा टैम ने कहा कि मजबूत वैक्सीनेशन रेट ने अस्पताल में भर्ती होने और मौतों को कम करने में मदद की है. लेकिन अस्पतालों और स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली को नए सिरे से दबाव से बचाने के लिए वैक्सीनेशन में और वृद्धि होनी चाहिए. उन्होंने युवा वयस्कों से जल्द से जल्द पूरी तरह से वैक्सीनेट होने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि इस आयु समूहों में वैक्सीनेशन के मामले में देश पिछड़ रहा है. टैम ने बताया कि कनाडा के 63 लाख लोगों को वैक्सीन की पहली डोज और 50 लाख को दूसरी डोज नहीं मिली है.

बेहतर सुरक्षा स्थापित करने के लिए 80 फीसदी लोगों का वैक्सीनेशन जरूरी

मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा, पांच दिनों बाद कनाडा में लेबर डे है. ऐसे में सुरक्षा वाला वातावरण स्थापित करना बेहद जरूरी है. इस दौरान हम लोग स्कूलों, कॉलेजों, यूनिवर्सिटी और कार्यस्थलों पर इकट्ठा होने वाले हैं. टैम ने कहा कि बेहतर सुरक्षा स्थापित करने के लिए सभी आयु समूहों में वैक्सीन कवरेज 80 प्रतिशत से अधिक होना चाहिए. उन्होंने कहा, अधिक संक्रामक डेल्टा वेरिएंट बिना वैक्सीन लगवाए युवा लोगों के बीच फैल सकता है. इससे स्वास्थ्य देखभाल क्षमता खासा प्रभावित हो सकती है.

कनाडा में कम हुए हैं कोरोना के मामले

डॉ टैम ने कहा, तीसरी लहर के चरम के बाद से वर्तमान कोरोना मामलों की संख्या में 93 प्रतिशत की गिरावट आई है. पिछले सात दिनों में प्रतिदिन औसतन 640 नए संक्रमण के मामले सामने आए हैं. उप मुख्य सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारी हॉवर्ड न्जू ने कहा कि कनाडा की मजबूत वैक्सीनेशन दर का मतलब है कि संक्रमण में होने वाले इजाफे से मौतों और अस्पताल में भर्ती होने वाले लोगों की संख्या कम होगी. उन्होंने चेतावनी दी कि बिना वैक्सीन लगवाए लाखों कनाडाई वास्तव में गंभीर खतरे में हैं.

Leave a Comment